• Home
  • Gujarati Gk
  • भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास एवं महत्वपूर्ण संस्थाओं की सूची (History of National Independence Movement in Hindi)
Gujarati Gk

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास एवं महत्वपूर्ण संस्थाओं की सूची (History of National Independence Movement in Hindi)

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास एवं महत्वपूर्ण संस्थाएं: (History of National Independence Movement in Hindi)

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास:

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन ‘भारतीय इतिहास’ में लम्बे समय तक चलने वाला एक प्रमुख राष्ट्रीय आन्दोलन था। इस आन्दोलन की औपचारिक शुरुआत 1885 ई. में कांग्रेस की स्थापना के साथ हुई थी, जो कुछ उतार-चढ़ावों के साथ 15 अगस्त, 1947 ई. तक अनवरत रूप से जारी रहा। वर्ष 1857 से भारतीय राष्ट्रवाद के उदय का प्रारम्भ माना जाता है। राष्ट्रीय साहित्य और देश के आर्थिक शोषण ने भी राष्ट्रवाद को जगाने में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया।

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन के तीन भाग (चरण) निम्नलिखित है:

प्रथम चरण (1885-1905 ई. तक)

इस काल में ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ की स्थापना हुई, किंतु इस समय तक इसका लक्ष्य पूरी तरह से अस्पष्ट था। उस समय इस आन्दोलन का प्रतिनिधित्व अल्प शिक्षित, बुद्धिजीवी मध्यम वर्गीय लोग कर रहे थे। यह वर्ग पश्चिम की उदारवादी एवं अतिवादी विचारधारा से प्रभावित था।



द्वितीय चरण (1905 से 1919 ई. तक)

इस समय तक ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ काफ़ी परिपक्व हो गई थी तथा उसके लक्ष्य एवं उद्देश्य स्पष्ट हो चुके थे। राष्ट्रीय कांग्रेस के इस मंच से भारतीय जनता के सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक एवं सांस्कृतिक विकास के लिए प्रयास शुरू किये गये। इस दौरान कुछ उग्रवादी विचारधारा वाले संगठनों ने ब्रिटिश साम्राज्यवाद को समाप्त करने के लिए पश्चिम के ही क्रांतिकारी ढंग का प्रयोग भी किया।

तृतीय एवं अन्तिम चरण (1919 से 1947 ई. तक)

इस काल में महात्मा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने पूर्ण स्वरज्य की प्राप्ति के लिए आन्दोलन प्रारम्भ किया।

राष्ट्रीय स्वतंत्रता आन्दोलन अवधि में बनी महत्वपूर्ण संस्थाएं 

स्थापना वर्ष संस्थाओं का नाम किसके द्वारा बनायीं गई
1784 एशियाटिक सोसाइटी विलियम जोन्स
युवा बंगाल हेनरी लुई विवियन डिरोजियो
1828 ब्रह्म समाज राजा राम मोहन राय
1843 ब्रिटिश सार्वजानिक सभा दादा भाई नौरोजी
1851 रहनुमाई भानदयासन समाज दादा भाई नौरोजी
1862 साइंटिफिक सोसाइटी सर सैयद अहमद खां
1863 मोहम्मडन एंग्लो  लिटरेरी  सोसाइटी अब्दुल लतीफ़
1871 वेद समाज श्रीधरालू नायडू
1867 प्रार्थना समाज केशव चन्द्र सेन,महादेव रानाडे,रविन्द्रनाथ  टैगोर
1870 पूना सार्वजानिक सभा रानाडे/चिपुलकर और जोशी
1872 इंडियन सोसाइटी आनंद मोहन बोस
1875 आर्य समाज स्वामी दयानंद सरस्वती
1875 थियोसोफिकल सोसाइटी मैडम ब्लाव्त्सकी  और कर्नल अल्काट
1875 मोहम्मडन एंग्लो ओरिएंटल कॉलेज सर सैयद अहमद खां
1876 इंडियन एसोसिएशन सुरेन्द्र  नाथ बनर्जी
1883 भारतीय  राष्ट्रीय कांफ्रेंस एस.एन. बनर्जी
1885 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ए. ओ. ह्यूम
1885 बॉम्बे प्रेसिडेंसी एसोसिएशन फिरोज शाह मेहता, तैलंग तथा  तैयब जी
1887 बेलूर मठ स्वामी विवेकानंद
1887 इंडियन सोशल कांफ्रेंस महादेव गोविन्द रानाडे
1888 यूनाइटेड इंडियन पेट्रियाटिक एसोसिएशन सर सैयद अहमद खां
1896 राम कृष्ण मिशन स्वामी विवेकानंद
1905 सर्वेट्स ऑफ़ इंडिया सोसाइटी गोपाल कृष्ण गोखले
1906 मुस्लिम लीग सलीमुल्लाह  एवं  आगा  खां
1913 ग़दर पार्टी हरदयाल, काशीराम व सोहन  सिंह
1916 होमरूल  लीग बालगंगाधर  तिलक
1918 विश्व  भारती रविन्द्र नाथ टैगोर
1920 कम्युनिस्ट  पार्टी ऑफ़ इंडिया एम् एन राय (ताशकंद में)
1920 सर्वेट्स ऑफ़ पीपुल सोसाइटी लालालाजपत  राय
1920 अखिल भारतीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस एन. एम्. जोशी
1923 स्वराज पार्टी मोतीलाल नेहरु, चितरंजन दास  व एन.सी. केलकर
1925 राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के बी हेडगेवार
1928 हिंदुस्तान सोशलिस्ट  रिपब्लिकन एसोसिएशन चन्द्र शेखर आज़ाद, भगत सिंह
1936 अखिल भारतीय किसान  सभा एन. जी. रंग व सहजानन्द
1936 अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् मीनू  मसानी , अशोक  मेहता व डा. अशरफ
1937 खुदाई खिदमतगार खान अब्दुल गफ्फार खान
1939 फॉरवर्ड  ब्लाक सुभाष चन्द्र बोस
1940 रेडिकल डेमोक्रेटिक दल एम. एन. राय
1942 आज़ाद हिंद फौज रस बिहारी बोस

इन्हें भी पढ़े: देवधर ट्रॉफी का इतिहास, विजेताओ में नाम एवं प्रारूप की सामान्य जानकारी (List of Deodhar Trophy Winners in Hindi)

Related posts

Indian Institute of Teacher Education (IITE) Recruitment for Various Posts 2017

kajal

IIT Gandhinagar Recruitment of Software Developer & Software Support Engineer – Internship 2018

kajal

Sardar Patel University (SPU) Recruitment for Scientific Staff At Chemistry Department 2018

kajal

Leave a Comment